Breaking News New

 03 Oct  End Game Dhruva:  is Released on Raj Comics Android App... 

Comics Overview 2015 and Expectations 2016


Comics Overview 2015 - Expectations 2016

 

Comics Memories of 2015


Last year 2015 had left many good and certain bad memories. Year 2015 was very special for some people and for many it has passed like an ordinary year. Let's talk about Raj Comics, year 2015 was an average year for Raj Comics and its readers. It was not very special or very bad, it was a mixed year. Last year, 21 new comics were released in 6 monthly sets. While, in the previous two years 2013-2014, 18 + 18 = 36 new comics were released. There was a slight increase in the number of comics released in 2015.
How was the year 2015 for a comics fan? Let's have a look as a Comics reader.


Unforgettable Comics memories of 2015:



  1. At the starting of the year in Jan 2015, Sarvsanhar and Hunters the last set of 2014 were in the hands of the readers. "Hunter", the year 2015 was started with such an outstanding comic.
  2. With the first set of 2015, Holi festival became even more colorful. "Narak Nashak Origin Series" came to an end with the comic "Narak Aahuti", which was released in the same set.
  3. In March, there was good news for Doga fans. Raj Comics team said, "Doga's solo comics soon will be published regularly in every set. In comparison to previous years, in 2015 you'll get even more comics." Raj Comics fulfilled their both promises, since the release of "Doga Nirmulk" (set no 3) every set is being released with a solo comic of Doga.
  4. In April, on the occasion of "Super Commando Dhruva’s' birthday, Raj Comics had been provided a special free gift offer on their online store. But, set No. 2 was not released on this occasion, which was expected by all the readers.
  5. Set No. 2 was released in late April, readers had got to read 3 new comics in this set.
  6. Doga Movie, it is always been a matter of discussion among the comics fans. In the middle of May, readers seemed some hope of its making. Raj Comics told their fans that, "The business success of movie Bombay Velvet is connected to the future of Doga’s film". Unfortunately Bombay Velvet had failed to achieve success, and since then there is no news of Doga movie on the behalf of Raj Comics.

  7. In mid-June, set no 3 the Sarvmanthan set were also released. It took 47 days to release after the previous set. Means, this set was released quite early in compared to the previous sets. This set was also released with 3 comics.
  8. In early August, the 4th i.e Kshatipurti set was released. From this set, every set began to be released with 4 new comics.
  9. In the middle of September, pre-orders for set 5 the Sarvsandhi set had been started. This time Pre orders were started a few days earlier than the expectations of the readers. Set 5 pre-orders had started exactly after 42 days of the Set 4 pre-orders. 42-days interval between the releases of these two sets. I think it was a great achievement for the Raj Comics team and good news for the readers.
  10. Once again fans were got to hear the news of Raj comics Movie. On 13 Oct 2015, Raj Comics team said, "The story of the film on Raj Comics Heroes has begun to discuss with Karan Kapadia in Mumbai." What is the progress of that conversation? And when the movie will start work on? Raj Comics have not told anything about it yet.
  11. On 15th Nov, Nagraj Janmotsav was celebrated with a great fervor at Raj Comics complex, Delhi. Several fans of Nagraj became the part of this celebration.

  12. On the same day, along with Nagraj Janmotsav the "Fifth Annual KalpanaLok Awards" were also organized. On this occasion, artists were awarded for their excellent imagination and for their contribution to the world of comics.

  13. In early Dec, set 6 the No Man's Land set was released. Opposite to the expectation of the readers, this set was released quite late. Probably, due to "Diwali Holidays", "Nagraj Janmotsav Celebrations" and the "Up-gradation of Raj Comics Official Website".
  14. On the Christmas sale of 2015, the discount rate had been increased by 10%. In 2014, there was 20% discount on the Christmas sale and in 2015 buyers were get 30% discount rate.
  15. On Dec 30th, "Free Comics Day" was organized. According to Raj Comics, on this "Free Comics Day", the orders numbers had been increased by 10% as compared to previous years.

The reasons of Readers disappointment in 2015:



  1. In 2015, total 21 new comics were released in 6 monthly sets. There's no doubt that the number of the released comics in 2015 has increased. But the number of sets were failed to cross the figure 6.
  2. According to their words, Raj Comics started releasing Doga solo comics in every set regularly. But these solo comics are of just 24-25 pages. All the fun gets spoiled in such a short pages comic. Readers are not happy with such comics.
  3. The comics of Aakhiri Series are also being released in 24-25 pages. How a reader might prefer a Multistar comic in just 24-25 pages.
  4. After the release of set No. 2, the comedy characters could not find place in the monthly sets. Bankelal, Fighter Toads, Gamraj the monthly sets seems incomplete without all of these.

  5. Current ongoing Comics series has been too much of. Except the two comics of the set No. 1 and 2 of 2015, the rest of the 19 comics are the parts of the current ongoing series. Means, just 2 complete comics were released in 2015, the rest 19 are unfinished parts of various ongoing comics series. Readers are entangled in these series. Whenever a new comic of a series is released, then the readers will have to reread the previous parts again. Raj Comics team needs to pay much attention on here.

Expectations of the Fans from Raj Comics in 2016:



  1. The first and the most important demand of the readers is, "A new set every month". In 2016, the monthly sets should be released as much as possible, so the readers will get to read more comics.
  2. Comics Series should not be pulled up so longer. If possible, not more than 2 to 3 series should be released parallel and new series should be started after the completion of any one of the ongoing series.
  3. Solo comics should be released with at least 32 pages, and should release constantly in every monthly set.
  4. At least one comic of a comedy character should be released in each set, doesn't matter whether it is of 32 pages. I think a comedy comic could be easily completed in just 30 pages, instead of an action-packed serious comic.
  5. This year readers want to watch an animated movie on Raj Comics. Animated movie would be a bigger advantage, it will find the audience reaction and a live action film can be planned on. Another advantage would be that, "What is lacking and where? How will it be fulfilled?" the point will be revealed.


At the end of this post I would like to say,
Go ahead Raj Comics, you have hundreds of thousands of fans. Tell the whole world, "Why Raj comic is our Passion"

We were with you, we are with you and we will always with you Raj Comics. 

I wish that in 2016, Raj comics achieve even more heights.
I pray that the year 2016 would be prosperous and lucky for the entire Raj Comics team and their Millions of fans.

Happy New Year to all of you.



कॉमिक्स यादें 2015


विगत वर्षों की ही तरह वर्ष 2015 भी कई अच्छी और कुछ बुरी यादें छोड़ गया।  कुछ लोगों के लिए यह वर्ष बहुत खास रहा और कइयों के लिए यह एक साधारण साल की तरह बीत गया। बात करें राज कॉमिक्स की, तो वर्ष 2015 राज कॉमिक्स और उसके पाठकों के लिए मिला जुला रहा। न बहुत ज़्यादा अच्छा, न ही बहुत बुरा। वर्ष 2015 में कुल 6 मासिक सेटों में 21 नई कॉमिक्स रिलीज़ हुई। जबकि, इससे पिछले दोनों वर्षों 2013-2014 में 18 + 18 = 36 नई कॉमिक्स जारी की गयी थी।  2015 में जारी हुई कॉमिक्स की संख्या में थोड़ी ही सही, लेकिन बढ़ोतरी ज़रूर हुई।
आइये देखते हैं, कैसा रहा वर्ष 2015 एक राज कॉमिक्स पाठक की नजर में। 


 

2015 के कुछ यादगार कॉमिक्स लम्हे:



  1. 2015 का पहला माह जनवरी, 2014 का अंतिम सेट यानी सर्वसंहार और हन्टर्स इस माह पाठकों के हाथों में थी। "हन्टर्स" जैसी बेमिसाल कॉमिक के साथ वर्ष 2015 की शुरुआत हुई।
  2. 2015 के पहले सेट के साथ होली का त्यौहार और भी रंगमयी हो गया। इसी सेट में आई कॉमिक "नरक आहुति" के साथ ही नागराज की एक रोमांचक और कई राज़ों पर से पर्दा उठती हुई "नरक नाशक उत्पति श्रृंखला" का समापन हुआ।
  3. मार्च माह में डोगा के चाहने वालों के लिए एक खुशखबरी आई। राज कॉमिक्स टीम ने कहा की, "डोगा की एकल (सोलो) कॉमिक्स जल्दी ही राज कॉमिक्स के हर सेट में नियमित रूप से प्रकाशित की जाएंगी। वर्ष 2015 में आपको पिछले वर्षों के मुकाबले कॉमिक्स भी ज्यादा मिलेंगी। " राज कॉमिक्स ने अपनी कही बात पूरी भी की, सेट नंबर 3 में डोगा निर्मूलक जारी करने के बाद से हर सेट में डोगा की एक एकल कॉमिक निरंतर जारी कि जा रही है।
  4. अप्रैल माह में 'सुपर कमांडो ध्रुव' के जन्मदिवस के उपलक्ष में राज कॉमिक्स ऑनलाइन स्टोर पर एक खास मुफ्त उपहार स्कीम दी गयी। लेकिन सेट नंबर 2 'सुपर कमांडो ध्रुव के जन्मदिवस' के उपलक्ष पर जारी न हो सका, जिसकी पाठकों को भरपूर उम्मीद थी।
  5. अप्रैल माह के अंत में सेट नंबर 2 जारी हुआ, इस सेट में पाठकों को 3 नयी कॉमिक्स पढ़ने को मिली।
  6. डोगा मूवी जोकि कॉमिक्स पाठकों के लिए हमेशा से चर्चा का विषय रहा है, 2015 मई माह के मध्य में उसके निर्माण की कुछ उमीदें दिखीं। राज कॉमिक्स ने अपने प्रशंसकों को बताया की, "रिलीज़ होने जा रही फिल्म बॉम्बे विल्वेट की कारोबारी सफलता से डोगा पर बनने वाली फिल्म का भविष्य भी जुड़ा हुआ है।" बॉम्बे विल्वेट सफलता हासिल करने में नाकाम हुई और उसके बाद राज कॉमिक्स की तरफ से डोगा मूवी की भी कोई खबर नहीं आई।

  7. जून के मध्य में तीसरा यानी सर्वमंथन सेट भी जारी कर दिया गया। इस सेट को जारी होने में 47 दिनों का समय लगा, मतलब की यह सेट अन्य सेटों की तुलना में काफी जल्दी जारी कर दिया गया। यह सेट भी 3 कॉमिक्स के साथ जारी हुआ।
  8. अगस्त माह के शुरू में इस वर्ष का चौथा यानी क्षतिपूर्ति सेट जारी हुआ। इस सेट के साथ ही हर सेट को 4 नयी कॉमिक्स के साथ जारी करने की शुरुआत हुई।
  9. सितम्बर माह के मध्य में सेट 5 यानी सर्वसन्धि सेट के प्री ऑर्डर्स शुरू हो गए। जोकि पाठकों की उम्मीदों से काफी पहले शुरू हो गए। सेट 4 के प्री-ऑर्डर्स के शुरू होने के ठीक 42वें दिन सेट 5 के प्री-ऑर्डर्स शुरू हो गए। दोनों सेट्स की रिलीज़ के बीच 42 दिन का अंतराल रहा।मेरी नजर में यह राज कॉमिक्स टीम के लिए एक बड़ी उपलब्धि थी और पाठकों के लिए खुशखबरी। यह सेट भी 4 कॉमिक्स के साथ जारी हुआ।
  10. राज कॉमिक्स पर बनने वाली फिल्म की खबर एक बार फिर सुनने को मिली। 13 अक्टूबर 2015 को राज कॉमिक्स टीम ने कहा की, "राज कॉमिक्स के हीरोज पर बनने वाली फिल्म की कहानी पर चर्चा शुरू हो चुकी है। मनीष गुप्ता जी मुंबई में करण कपाडिया जी के साथ इस बारे में बातचीत कर रहे हैं"। बातचीत कितनी आगे बढ़ी और कब फिल्म पर कार्य शुरू होगा? इसके बारे राज कॉमिक्स द्वारा अब तक कुछ भी नहीं बताया गया है।
  11. नवम्बर 15 को “नागराज जन्मोत्सव समारोह” राज कॉमिक्स परिसर, दिल्ली में बड़े ही जोशो-खरोश के साथ मनाया गया। नागराज के कई चाहने वाले इस समारोह का हिस्सा बने।

  12. साथ ही 15 नवंबर, 2015 को ही "पंचम वार्षिक कल्पनालोक अवार्ड्स" भी आयोजित किये। इस उपलक्ष पर कॉमिक्स जगत को अपना योगदान देने वाले रचनाकारों की उत्कृष्ट कल्पना को सम्मानित किया गया।

  13. दिसंबर के शुरू में “नो मेंस लैंड” यानि सेट 6 जारी हुआ। जो की उम्मीद से काफी विलम्ब से जारी हुआ। वजह शायद "दिवाली की छुट्टियां", "नागराज जन्मोत्सव समारोह" और "राज कॉमिक्स आधिकारिक वेबसाइट का नवीनीकरण" रहे।
  14. इस वर्ष की क्रिसमस सेल में 10% की बढ़ोतरी हुई। जहाँ, 2014 की क्रिसमस सेल में 20% छूट थी वहीँ 2015 में कॉमिक्स खरीददारों को 30% की छूट मिली।
  15. 30 दिसंबर को "फ्री कॉमिक्स डे" का आयोजन किया गया। राज कॉमिक्स टीम के अनुसार, इस वर्ष के "फ्री कॉमिक्स डे" में कॉमिक्स आर्डर करने वालों की संख्या में पिछले वर्षो के मुकाबले 10% की बढ़ोतरी हुई।


2015 में पाठकों की निराशा के कारण:



  1. वर्ष 2015 में कुल 6 मासिक सेट्स में 21 नयी कॉमिक्स रिलीज़ हुई। इसमें कोई शक नहीं की इस वर्ष जारी हुई कॉमिक्स की संख्या में वृद्धि हुई है। लेकिन सेटों की संख्या 6 से ऊपर नहीं जा सकी।
  2. अपने कहे अनुसार राज कॉमिक्स ने डोगा की एकल कॉमिक्स को हर सेट में जारी करना शुरू कर दिया। लेकिन वो एकल कॉमिक्स केवल 24-25 पृष्ठों की हैं। इतने कम पृष्ठों की कॉमिक्स सारा मज़ा किरकिरा कर देती है। पाठक इस तरह की कॉमिक्स से खुश नहीं हैं।
  3. आखिरी रक्षक श्रृंखला की कॉमिक्स को भी 24-25 पृष्ठों में रिलीज़ किया जा रहा है। एक मल्टीस्टार कॉमिक को कैसे कोई 24-25 पृष्ठों में पसंद कर सकता है।
  4. सेट नंबर 2 के बाद से हास्य किरदारों की कॉमिक्स को सेट में जगह नहीं मिल पायी। बांकेलाल, फाइटर टोड्स, गमराज इन सबके बिना सेट कुछ अधूरा सा लगता है।

  5. कॉमिक्स श्रृंखलाओं की अत्यधिक भरमार हो गयी है। 2015 के पहले और दूसरे सेट की 2 कॉमिक "पो पो पोल" और "अनोखा चोर" को छोड़कर इस वर्ष जारी हुई बाकि की 19 कॉमिक्स मौजूदा चल रही श्रृंखलाओं के भाग हैं। मतलब, इस वर्ष केवल 2 ही पूर्ण कॉमिक्स जारी हुई बाकि 19 अधूरे भाग हैं। पाठक श्रृंखलाओं में उलझ से गए हैं, किसी श्रृंखला की नयी कॉमिक आने पर उसके पिछले सभी भागों को फिर से पढ़ना पड़ता है। राज कॉमिक्स टीम को यहाँ पर अत्यधिक ध्यान देने की ज़रूरत है।


वर्ष 2016 में प्रशंसकों की राज कॉमिक्स से कुछ उम्मीदें:



  1. पाठकों की सबसे पहली और अहम मांग यही रही है की "हर महीने एक नया सेट"। वर्ष 2016 में अधिक से अधिक मासिक सेट जारी किये जाएं और पाठकों को ज्यादा से ज्यादा कॉमिक्स पढ़ने को मिलें।
  2. श्रृंखलाओं को अधिक लम्बा न किया जाए। हो सके तो 2 से 3 सामांतर श्रृंखलाएं चलायी जाएं और उनमें से किसी एक श्रृंखला के समापन के बाद ही नयी श्रृंखला आरम्भ की जाये।
  3. एकल कॉमिक्स को कम से कम 32 पृष्ठों में जारी किया जाए और हर सेट में निरंतर जारी किया जाए।
  4. हास्य किरदारों की भी कम से कम एक कॉमिक हर सेट में जारी की जाए, फिर चाहे वो कॉमिक 32 पृष्ठों की ही क्यों न हो। मुझे लगता है की एक कॉमेडी कॉमिक को 30-32 पृष्ठों में आसानी से पूरा किया जा सकता है, बजाय एक एक्शन-पैड कॉमिक के।
  5. इस वर्ष राज कॉमिक्स की एक एनिमेटेड मूवी देखने को ज़रूर मिले। इसके दो एहम फायदे होंगे,  पहला, मूवी पर दर्शकों की प्रतिक्रिया का पता चलेगा और उसके अनुसार बड़ी फिल्म की योजना बनायीं जा सकती है । दूसरा, इसके साथ ही राज कॉमिक्स फिल्म की मार्केटिंग का भी जायज़ा हो जाएगा (कहाँ पर क्या कमी है और वह कैसे पूरी होगी)।

इस पोस्ट के अंत में केवल इतना ही कहना चाहूंगा कि,
आगे बढ़ो राज कॉमिक्स, आपके हजारों-लाखों चाहने वाले हैं। पूरी दुनिया को बता दो की क्यों राज कॉमिक है हमारा जनून । हम कल भी आपके साथ थे, आज भी हैं और हमेशा ही आपके साथ हैं राज कॉमिक्स।



में कामना करता हूँ की वर्ष 2016 में राज कॉमिक्स और भी अधिक बुलंदियां हासिल करें।
यह वर्ष राज कॉमिक्स टीम और उनके हजारों-लाखों चहेते पाठकों के लिए मंगलमयी हो।
नववर्ष की ढेरों शुभकामनायें।


Share on Google Plus
Author-avatar

Hi Friends,
To reach the entire world Our Desi Heroes need your support.
Share This ---- As Much As You Can.
Keep the JANNON alive

 
Subscribe Us via Email :
    Blogger Comment  
    Facebook Comment  

0 comments:

Post a Comment